Ayurveda Treatments

रोज़ाना अलसी खाने के फायदे- Benefits of Alsi in Hindi

alsi-ke-fayde-in-hindi
Written by Surbhi

अलसी के अद्भुत और अनगिनत फायदे

अलसी यानि फोलिक एसिड एक तरह के बीज होते है जो कई सालो से लोग खाते आ रहे है क्योकि इसमें गुण अनगिनत है। अलसी में  ओमेगा ३ फैटी एसिड, एंटीओक्सिडेंट, विटामिन बी, प्रोटीन्स, फाइबर और आयरन होता है जिस वजह से ये स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा माना जाता है। इससे कोल्ड कफ, पाचन, कैंसर, शुगर कण्ट्रोल आदि से काफी हद तक बचा जा सकता है। लेकिन ध्यान रहे कभी भी एक दिन में ३० ग्राम से ज्यादा अलसी न ले। इससे फायदे की बजाए नुक्सान हो जाएगा जैसे पेट में जलन, बैचैनी आदि।

चलिए जानते है अलसी से होने वाले फायदों (Alsi ke Fayde) के बारे में विस्तार से जानते है –

alsi-ke-fayde-benefits-of-alsi

वजन कम करने में मदद

जो लोग मोटे होते है उनको अपना वजन कम करने की बहुत चिंता रहती है पर उनके पास एक्सरसाइज करने का समय नही होता और न ही डाइटिंग करने की हिम्मत, ऐसे लोगो के लिए अलसी का प्रयोग काफी फायदा पहुंचाता है।अलसी में ओमेगा ३ और लिग्निन नाम का तत्व होता है जो शरीर में चर्बी जमा होने नही देता। अगर आपको योग या एक्सरसाइज करने का समय नही मिलता तो रोज में अलसी को लेना शुरू कर दे और Alsi ke beej se vajan ghataaye। इससे आप अपना वजन कण्ट्रोल कर पाएगे। खाना खाने के वक्त से कम से कम एक घंटा पहले अलसी को खाए और फिर पानी पी ले। आधा घंटा गुजर जाने के बाद फिर एक गिलास पानी पी ले। तब आपको ऐसा लगेगा कि आपका पेट भरा हुआ है और आप ज्यादा खाना नही खा पाएंगे। इस तरह आपका वजन कम हो जाएगा।

कोलेस्ट्रॉल लेवल नियंत्रित करने में फायदेमंद

कोलेस्ट्रोल बढ़ना दिल के मरीजो के लिए अच्छा नही होता। इसके लिए वो कई तरह की दवाइयां लेते है पर अगर वो अलसी का नियमित सेवन करने लगे तो उनको काफी फायदा पहुंचता है। अलसी में फाइबर होने की वजह से आपका पाचन तंत्र ठीक से काम करता है और आपका कोलेस्ट्रोल भी कण्ट्रोल में रहता है।

हृदय को मजबूत करने में मदद

रोज में अलसी लेने से धमनियां ठीक से काम करती है और आर्टरीस में प्लाक नही बनता। इस वजह से व्यक्ति हार्ट अटैक और स्ट्रोक से बचा रहता है। 

स्त्रियों में हॉर्मोनल बैलेंस बनाए रखने के लिए

अलसी में फाइटोएस्ट्रोजन होता है जिस वजह से महिलाओ में हार्मोनल बैलेंस बना रहता है। इसको लेने से रक्तस्त्राव की अनियमितता, गर्मियों में होने वाली बैचैनी, कमर में तेज दर्द और योनी मार्ग में सूखापन दूर करने में मदद मिलती है।

कैंसर से बचाव

अलसी नियमित लेने से कई तरीको के कैंसर से बचाव होता है जैसे पेट का कैंसर, प्रोस्टेट कैंसर, स्तन कैंसर, क्योकि इसमें एंटीओक्सिडेंट तत्व होता है। इतनी फायदेमंद चीज का इस्तेमाल तो जरुर करना चाहिए।

मधुमेह के रोगियों के लिए फायदेमंद

शुगर के रोगियों को रोज करीबन दिन भर में 25 ग्राम अलसी लेनी चाहिए। ऐसा करने से शरीर में शुगर का लेवल कण्ट्रोल रहता है।

जोड़ों के दर्द में फायदेमंद

नियमित रूप से अलसी लेने से खून पतला बना रहता है, जोड़ो में रक्त संचार सही रहता है जिसकी वजह से जोड़ो के दर्द में आराम आता है। आप सरसों के तेल में अलसी डाले और उसको गरम करे, फिर तेल को ठंडा करके जोड़ो पर लगाए, इस तरीके से दर्द कम हो जाता है। इसलिए जिन लोगो को जोड़ो में दर्द रखता है उनको इसका इस्तेमाल करना ही चाहिए।

alsi-chehre-ki-beauty-ke-liye

त्वचा में निखार लाने में मदद

अलसी का नियमित सेवन करने से चेहरे की सूजन, चेहरे पर पड़े चकते और लालिमा को कम करने में मदद मिलती है। इसमे मौजूद फैटी एसिड स्किन को मॉइस्चराइज और हाइड्रेट करते है जिस वजह से मुहांसे कम होते है। अलसी में एंटी ओक्सिडेंट होता है जो स्किन में नए सेल्स बनाने में मदद करता है जिससे बढती उम्र की वजह से त्वचा में होने वाले बदलाव से कई समय तक बचा जा सकता है।

बालों की परेशानियों से छुटकारा

अगर आपको भी Baal Lambe krneke lie Alsi kaise upyog krein सवाल का जवाब चाहिए तो इसका जवाब है अलसी का तेल लगाना या अलसी का किसी भी रूप में प्रयोग करना। अलसी का तेल लगाने से बाल झड़ना कम हो जाते है और रुसी से भी छुटकारा मिलता है। इस तेल में विटामिन ई होता है जिससे बालो को पोषण मिलता है और बाल लम्बे होते है।

कफ दूर करने में मदद

मिक्सी में अलसी के बीज दरदरा पीसे। अब एक गिलास पानी उबालने रखे, जब पानी उबल जाए उसमें पांच ग्राम मुलेठी, २० ग्राम मिश्री, १५ ग्राम अलसी और १/२ नीम्बू का रस डाले और ढक्कन लगाके तीन घंटे रहने दे। अब इसे छलनी से छान ले और पी ले। इससे स्वास नली में और गले में जो कम जमा होगा वो पिघल जाएगा। इस वजह से सर्दियों में इसका सेवन अत्यंत जरुरी है।

खूनी दस्त में आराम मिलता है

अगर खून के दस्त दवाइयां लेने पर भी ठीक नही हो रहे है तो एक गिलास पानी और अलसी को उबाल ले और उसमे मुलेठी करीबन एक तिहाई मिला कर पी ले। इससे मूत्र विकार दूर हो जाएगे।

नाखून मजबूत होते हैं

जिन महिलाओ के नाख़ून कमजोर होते है उनको अलसी का नियमित सेवन करना चाहिए इससे उनके नाख़ून नाख़ून मजबूत हो जाएंगे और जल्दी नही टूटेंगे।

अलसी का सेवन कैसे करे

अलसी के कई फायदे तो आपने जान लिए पर क्या आप जानते है इसका सेवन कैसे किया जाता है। आइये जानते है-

  • अलसी को खाली पीट खाना सबसे ज्यादा फायदा करता है।
  • आप अलसी को पीसकर भी ले सकते हैं।
  • खाने में अलसी का तेल इस्तेमाल कर सकते है।
  • अलसी को दही, अनाज और दलिया के साथ मिलाके खाया जा सकता है।
  • अलसी को सलाद, सूप, पूरी, पराठा आदि में डालके भी खाया जा सकता है।

ऊपर लिखे फायदे जानकार आज से ही अलसी का सेवन करना शुरू कर दे

About the author

Surbhi

मेरा नाम सुरभि है और ब्लोगिंग मेरा पेशन है. में अपने ब्लॉग पर आयुर्वेदिक और घरेलू नुस्खों के बारे में बताती हु. आप सभी जानते है की आयुर्वेदिक और घरेलू नुस्खे हमारे लिए कितना फायदेमंद है और इनका किसी तरह का साइड इफ़ेक्ट नहीं है. इसलिए में अपने ब्लॉग पर आपको आयुर्वेदिक और घरेलू नुस्खों के बारे में बताउंगी ताकि आप इन्हें अच्छे से जान सके और बिना किसी साइड इफ़ेक्ट के खुद में बदलाव ला सके.

Leave a Comment