General Information

Question and Answer on Corona Virus (Covid-19)

Question and Answer on Corona Virus
Written by Megha
Spread the love

कोविड 19 या कोरोना एक ऐसी बीमारी जिसने पूरी दुनिया मे हलचल मचा दी है। जितनी तबाही कोरोना वायरस ने मचाई है उतनी ही अफवाहे इसे लेकर फैली है। सोशल मीडिया पर इसे लेकर इतनी बाते हुई कि, लोग  कंफ्यूज होने के साथ साथ डर भी गए। तोआज बात करेंगे कोरोना के बारे मे फैली कुछ अफवाहों और सच्चाई के बारे में। ये सभी पॉइंट्स कोरोना से सम्बंधित इंटरनेशनल आर्गेनाइजेशन द्वारा बताई गई बातों परआधारित है।

Contents

क्या ये कोरोनावायरस जानवरो खासकर मुर्गियों और चमगादड़ से फैलता है?

उत्तर- ये खबर फैली की ये बीमारी भी बर्ड फ्लू और सॉर्स कि तरह जानवरो खासकर पोल्ट्री उत्पादों से फैली है. इसका नतीजा ये हुआ कि बहुत से पोल्ट्री फार्म मालिको ने बेजुबान मुर्गियों को जिंदा दफना दिया। जबकि सच्चाई  ये है कि यह कैसे फैला इसकी कोई पुष्टि नही है। लेकिन अब ये संक्रमण केवल इंसानो से इंसानो को हो सकता है, आप सोचे कि अंडा खाने से आपको कोरोना हो जाएगा तो आप बिलकुल गलत है।

क्या ऑनलाइन आर्डर करके सामान मंगा सकते है?

उत्तर-वैसे तो अब lockdown के दौरान अमेज़न और फ्लिप्कार्ट ने अपनी सर्विस रोक दी है।  लेकिन lockdown खुलने के बाद भी आप कोशिश करे कि बहुत जरूरत पर ही ऑनलाइन ऑर्डर करे।दरअसल हम नही जानते कि सामान किन किन हाथो से गुजरता हुआ हम तक पहुंचा है। हो सकता है जो डिलीवरी बॉय हमे सामान पकड़ाए वो संक्रमित हो। वैसे भी किसी भी सतह पर इस वायरस की जीवित रहने की अवधि करीब 24 से72 घण्टे है। ऐसे मे सावधानी जरूर बरते। यदि सामान आया है तो उसे लेकर किसी जगह पर करीब दो दिन तक छोड दे। उसके बाद साबुन से हाथो को अच्छी तरह धो ले।

क्या ये वायरस हवा से फैल सकता है?

उत्तर-एक बात आप समझ लीजिए की कोरोना दो तरीके से फैलता है एक तो अगर इन्फेक्टेड इंसान खांसते या छीकते समय मुँह पर हाथ या टिश्यू ना रखे या हाथ मुँह पर रखने के बाद हाथो को किसी भी हार्ड सरफेस पर टच कर दे,  यदि कोई भी इंसान उस संक्रमित इंसान या उस संक्रमित सरफेस जैसे कि फर्श, हैंडल, खम्बे, न्यूज़ पेपर, डिब्बाबन्द सामान, कुरियर के सम्पर्क में आएगा तो वो भी संक्रमित हो सकता है।

इन सामानों को fomides कहते है,स्टील पर इस वायरस की जिंदा रहने की अवधि है 4 घण्टे, न्यूज़ पेपर पर 5 दिन, कांच 5 घण्टे, प्लास्टिक पर 4 दिन तो अब आप को ध्यान में रखना होगा कि lockdown के समय भी घर के अंदर रहते हुए आप कैसे संक्रमण से बचाव करें। हवा से ये संक्रमण बिल्कुल नही फैलता अगर ऐसा होता देश समूल नष्ट हो जाते।हाँ ये वायरस एक मीटर तक जाने की क्षमता रखता है वो भी किसी के खाँसने या छींकने के कारण।

क्या सैनिटाइजर ही जरूरी है?

 उत्तर-नही अगर आप बाहर है और साबुन पानी उपलब्ध नही है तभी सैनीटाइजर का प्रयोग करें, सैनिटाइजर लगाने के बाद भी हाथों को मुँह या नाक में डालने से बचे क्योंकि इसके अंदर भी केमिकल होता है।

क्या ज्यादा गर्मी या सर्दी में ये वायरस खुद ब खुद मर जायेगा?

उत्तर-ऐसा कोई भी दावा WHO या किसी भी संगठन ने नही किया है। नाही गर्म पानी से नहाने या गर्म पानी पीने से इस वायरस के नष्ट होने के कोई सबूत मिले है।

घेरलू नुस्खे इस संक्रमण को दूर करने में कारगर है?

उत्तर- बिल्कुल नही, ये नुस्खे आपकी हेल्थ के लिए अच्छे हो सकते है पर इस वायरस पर इसका कोई असर नही होगा, जैसे कि तुलसी, निम्बू, लहसुन, प्याज, गिलोय को कोरोना का इलाज बताकर प्रचारित किया जा रहा है। इसलिए ऐसी अफवाहों से पूरी तरह बचे।

केवल महंगे मास्क होना ही जरूरी है?

उत्तर- बिल्कुल नही, आप रुमाल या किसी भी कपड़े का प्रयोग कर सकते है, लेकिन रुमाल हो मास्क हो या कपड़ा उसे बार बार ठीक करने की कोशिश में चेहरे को हाथ ना लगाए। ठीक करने, उतारने, और पहनने से पहले हाथो।को अच्छी तरह से साबुन से धो ले।

क्या सेक्स करने से कोरोना हो सकता है?

उत्तर- केवल तभी जब कोई एक पार्टनर कोरोना से संक्रमित हो।

मास्क पहनना कब और किसको जरूरी है?

उत्तर-मास्क केवल और केवल संक्रमित , उनके उपचार में लगें मेडिकल टीम और संक्रमित व्यक्ति के सम्पर्क में आने वाले को पहनना जरूरी है यदि आप और आपका परिवार स्वस्थ है और आप घर पर है, तो मास्क बिल्कुल जरूरी नही है।

बाजार से सब्जी, फल, दूध या ब्रेड लाए तो क्या सावधानी बरतें?

उत्तर-सबसे पहले सामान का थैला दरवाजे पर ही छोड़ दे। हाथो को अच्छे से धोकर कपड़े बदल लें। अब करीब 2 घण्टे बाद थैले को अंदर लाए। थैले को भी धो दे। सब्जी और फलों को सिरके, नमक या गर्म पानी से अच्छे से धोएं। दूध की थैली को भी साबुन से अच्छे से साफ करके ही भगोने में खोले। इसी प्रकार ब्रेड,  बिस्किट या नमकीन के पैकेट को भी अच्छे से बाहर से साफ करके ही प्रयोग में लाए।

एंटीबायोटिक खाने से कोरोना दूर रहेगा?

उत्तर- एंटीबायोटिक का इस्तेमाल बैक्टीरियल इन्फेक्शन में किया जाता है। कोरोना एक वायरस है, इस पर एंटीबायोटिक असर नही करेगी।

कोरोना का खतरा किनको ज्यादा है?

उत्तर-वैसे तो इसका कोई सटीक उत्तर नही है, क्योकी कोरोना अब बच्चे, बूढ़े सभी मे दिखाई दे रहा है। फिर भी जिन लोगो को अस्थमा, डायबिटीज, हृदय रोग जैसी समस्याएं  है, वो ज्यादा प्रभावित होंगे।वजह इन लोगो की रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होती है।

कोई और वैक्सीन इसमे कारगर होगी?

उत्तर-नही, इन्फ्लुएंजा, निमोनिया या किसी भी अन्य प्रकार के  फ्लू की वैक्सीन, टीका या दवाई इसमें कारगर नही है।

कोरोना के लिए ब्लड सैंपल लिया  जाता है?

उत्तर-नही, टेस्ट के सैंपल के तौर पर नाक और मुँह से swab लिया जाता है।

मच्छर या मक्खी से कोरोना फैल सकता है?

उत्तर-नही, ये केवल संक्रमित इंसान के द्वारा प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष तरीके से दूसरे इंसान में पहुंचता है।

Related Article: कोरोना वायरस से बचाव के लिए 10 आयुर्वेदिक टिप्स

About the author

Megha

मैं मेघा एक टेक्निकल ब्लॉगर हूँ. मुझे कंप्यूटर के बारे में नई-नई चीजें सीखना बहुत पसंद है और उन चीजों को लोगों के साथ शेयर करना मुझे बहुत अच्छा लगता है. अगर आपको कंप्यूटर का शौक है तो यह ब्लॉग आपके लिए ही है. मेरे ब्लॉग पर आप कंप्यूटर से जुड़े टिप्स और ट्रिक्स के बारे में जानकारी पा सकते है और उन्हें अपने कंप्यूटर पर अप्लाई भी कर सकते है.

Leave a Comment