Gharelu Nuskhe Treatments

अश्वगंधा से दूर हो सकती है बैचेनी और घबराहट, जानिये अश्वगंधा के फायदे

ashwagandha-se-bechaini-door-karein-अश्वगंधा-फॉर-anxiety
Written by Amisha Bharti

अश्वगंधा का नाम आप सबने सुन रखा है और यौन संबधी रोगों के लिए अश्वगंधा एक वरदान है. आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में बैचेनी और घबराहट एक आम समस्या है, जिसे आज के समय में हर इंसान ग्रस्त है. ऐसा कोई नहीं है जिसे कभी बेचैनी या घबराहट का सामना ना करना पड़ा हो.

यह समस्या सामान्य भी है और कई बार गंभीर भी हो सकती है. जैसे अगर आप इंटरव्यू देने गये है या मीटिंग में जा रहे है तो बैचेनी और घबराहट होना आम बात है लेकिन अगर किसी शारीरिक समस्या की वजह से बैचेनी या घबराहट होने लगती है तो यह गंभीर समस्या हो सकती है.

दिखने में भले ही यह आम समस्या हो लेकिन यह हमारी जीवनशैली और दिनचर्या दोनों को प्रभावित करती है. कई बार बैचेनी और घबराहट मानसिक समस्या का कारण भी बन सकती है. आज की इस पोस्ट में हम आपको बेचैनी और घबराहट से बचने के लिए अश्वगंधा के फायदों के बारे में बताएँगे. 

 Ashwagandha Ke Fayede In Hindi - Mental Health Tips in Hindi

बेचैनी और घबराहट होने के कारण – Reasons in Hindi

  • अधिक तनाव लेने से या किसी चीज के बारे में बार-बार सोचने से
  • अधिक मात्रा में शराब पीने से
  • धुम्रपान करने से
  • कैफीन युक्त पदार्थों का सेवन करने से
  • मीठे पेय पदार्थ पीने से
  • शरीर में हार्मोन असंतुलन से
  • आनुवंशिक कारण भी जिम्मेदार है जैसे अगर घर में कोई व्यक्ति मानसिक बीमारी से परेशान है तो बैचेनी और घबराहट हो सकती है.
  • आत्मविश्वास की कमी
  • काम का दबाव
  • परीक्षा, इंटरव्यू और मीटिंग का डर

घबराहट और बेचैनी के लक्षण – Symptoms of Anxiety and Nervousness in Hindi

  • मूड खराब रहना
  • चिढचिढापन रहना और घबराहट होना
  • किसी के सामने बोलने से डरना
  • हार्ट बीट तेज हो जाना
  • अधिक मात्रा में पसीना आना
  • हाथ-पैर कांपने लग जाना
  • अधिक थकान होना
  • काम में मन नहीं लगना
  • शरीर में कमजोरी आना
  • भूख नहीं लगना
  • ध्यान केन्द्रित करने में मुश्किल होना
  • नींद ना आना
  • बार-बार अचानक से नींद में से जाग जाना
  • पाचन क्रिया खराब होना
  • सोचने की क्षमता का प्रभावित होना
  • कुछ भी याद नहीं रहना
  • अधिक गुस्सा आना या बात-बात पर चिढ जाना
  • सीने में भारीपन महसूस होना
ashwagandha-bechaini-aur-ghabrahat-door-karein

बेचैनी और घबराहट दूर करने के लिए अश्वगंधा के फायदे

प्राचीन काल से बैचेनी और घबराहट को दूर करने के लिए अश्वगंधा का प्रयोग किया जा रहा है. यौन रोगों के लिए भी अश्वगंधा किसी वरदान से कम नहीं है. अश्वगंधा एक मात्र ऐसी जड़ी-बूटी है जो तनाव में शरीर की प्रतिक्रिया को स्थिर करती है. अगर कोई व्यक्ति अश्वगंधा का सेवन करता है तो वह तनाव और बैचेनी की स्थिति में भी खुद को कण्ट्रोल में रख सकता है.

रिसर्च और शोध में भी यह बात साबित हो चुकी है की अश्वगंधा में कई ऐसे चिकित्सकीय गुण है जो थोड़ी ही देर में दिमाग को पूरी तरह से शांत कर देती है. अश्वगंधा का सेवन करने से व्यक्ति खुद को उर्जावान महसूस करता है और उसमे सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है.

और पढें: Ashwagandha Ke Fayde in Hindi

बेचैनी दूर करने के आसान उपाय – Remedies to Get Rid Off of Anxiety in Hindi

1. लैवेंडर आयल

अगर किसी व्यक्ति को अचानक से बैचेनी होने लगे या किसी वजह से घबराहट हो तो उसे लैवेंडर आयल सुंघाना चाहिए. इसमें कई तरह के एंटी-ओक्सिडेंट और एंटी-एंजाइम पाए जाते है जो बैचेनी दूर करने के लिए एक दवा का काम करते है.

2. हॉट बाथ (गर्म स्नान)

गुनगना पानी ले और उसमे इप्सम सोल्ट (नमक) मिला दे और फिर इस पानी से नहायें. इससे शरीर का तापमान बढ़ता है जिससे दिमाग शांत रहता है.

3. मेडिटेशन (ध्यान लगाना)

तनाव, डिप्रेशन, बैचेनी और घबराहट सब दुखी की एक दवा है मेडिटेशन. अगर आप सही से मेडिटेशन करना सीख गए तो आप आसानी से अपने दिमाग पर कण्ट्रोल रख पाएंगे और अगर आपने दिमाग पर कण्ट्रोल कर लिया तो बैचेनी और घबराहट अपने आप शांत हो जाएगी. मेडिटेशन करने से स्वच्छ वायु फेफड़ों में पहुँचती है जिससे व्यक्ति चिंता और तनाव को भूल जाता है.

4. पॉजिटिव सोचे

अगर आप किसी इंटरव्यू में जा रहे है या कहीं मीटिंग में प्रजेंटेंशन देने जा रहे है तो आप इस ख्याल में रहते है की कैसा होगा, अच्छा नहीं हुआ तो क्या होगा, क्या में सफल होऊंगा आदि. इस वजह से आप अपना बेस्ट नहीं दे पाते, इसलिए ध्यान रखें की जब भी ऐसी किसी जगह पर जाएँ तो दिमाग को शांत रखे और पॉजिटिव सोचे. जब आप पॉजिटिव सोचेंगे तो देखना आप काम सफल होगा.

5. दूसरों से अपनी समस्या शेयर करें

जब हम किसी चीज को दिमाग में रखते है तो व्यक्ति की बैचेनी और घबराहट बढ़ जाती है, इसलिए जिस पर आप सबसे ज्यादा भरोसा करते है उसे अपने दिल की बात बता दे. जब बैचेनी हो या घबराहट हो तो कभी भी अकेले ना रहे और अपनी बातों का भरोसेमंद लोगों को बताएं, इससे आपको भी अच्छा लगेगा और आपकी मदद भी हो जाएगी.

About the author

Amisha Bharti

मैं अमीषा पेशन से एक हेल्थ ब्लॉगर हु. मैं अपने ब्लॉग में लोगों को बीमारियों से मुक्ति दिलाने के तरीकों के बारे में बताती हूँ. आप मेरे ब्लॉग से हेल्थ से संबधित सभी तरह की जानकारी पा सकते है.

Leave a Comment