Health and Diseases Women's Health

महिलाओं में मधुमेह लक्षण | Diabetes Symptoms in Women

Diabetes Symptoms in Women in hindi
Written by Surbhi
Spread the love

तीव्र गति से बदलती जीवनशैली, तनाव, डिप्रेशन और चिंता ने तमाम बीमारियों को जन्म दिया है और उन्ही में से एक गंभीर बीमारी है डायबिटीज जिसे मधुमेह या आम भाषा में शुगर  बीमारी भी कहा जाता है। यह एक ऐसी बीमारी है जो सिर्फ बड़ों को ही नहीं बच्‍चों को भी तेजी से अपना शिकार बना रही है। ज्यादातर इसमे महिलाऐ शामिल है।

डायबिटीज (Diabetes) क्या है?

जब हमारे शरीर के अग्न्याशय में इंसुलिन का स्त्राव कम हो जाने के कारण खून में ग्लूकोज स्तर समान्य से अधिक बढ़ जाता है तो उस स्थिति को डायबिटीज कहा जाता है। एक हॉर्मोन है जो पाचक ग्रन्थि द्वारा बनता है, और जिसकी जरूरत भोजन को एनर्जी बदलने में होती है। इस हार्मोन के बिना हमारा शरीर शुगर की मात्रा को कंट्रोल नहीं कर पाता है। इस स्थिति में हमारे शरीर को भोजन से ऊर्जा लेने में काफी कठिनाई होती है। जब ग्लूकोज का बढ़ा हुआ लेवल हमारे रक्त में लगातार बना रहता है तो यह शरीर के कई अंगों को नुकसान पहुंचाना शुरू कर देता है जिसमें आंखें, मस्तिष्क, हृदय, धमनियां और गुर्दे प्रमुख हैं।

डायबिटीज के प्रकार | Types of Diabetes in Hindi

टाइप 1 (Type-1) डायबिटीज

इस प्रकार की डायबिटीज ज्यादातर छोटे बच्चों या 20 साल से कम उम्र के लोगों में पाई जाती है। जब हमारी अग्न्याशय इंसुलिन नहीं बना पाती तब टाइप 1 डायबिटीज की शुरुआत होती है। इसमें रोगी को अपने खून में ग्लूकोज का लेवल नॉर्मल बनाए रखने के लिए समय-समय पर इंसुलिन के इंजेक्शन लेने पड़ते हैं।

टाइप-2 (Type-2) डायबिटीज

टाइप 2 डायबिटीज में शरीर के अन्दर इन्सुलिन का निर्माण तो होता है पर वह शरीर की आवश्यकता के अनुसार नहीं होता। दुनिया भर में सबसे ज्यादा लोग इसी प्रकार के मधुमेह से पीड़ित हैं। यह अनुवांशिक भी हो सकती है और मोटापे के कारण भी।

डायबिटीज़ के लक्षण महिलाओं मे | Symptoms In Women

Diabetes Symptoms in Women in hindi

किसी महिला को कैसे पता चले कि उसे मधुमेह है? पता करने का सबसे अच्छा तरीका खून की जांच है। लेकिन यदि आप निम्न मधुमेह के लक्षणों में से किसी का सामना कर रहे हैं, तो अपने डॉक्टर से सम्पर्क करे-

1-बार बार पेशाब आना-

जब किसी महिला को मधुमेह होता है, तो महिला के शरीर चीनी में भोजन को तोड़ने में कम कुशल होता है। आमतौर पर महिला का शरीर ग्लूकोज को पुनः अवशोषित करता है, जब यह महिला के गुर्दे से गुजरता है। तब महिला को मधुमेह होता है, तो अतिरिक्त शुगर  खून में बढ़ जाता है। जो गुर्दे को अतिरिक्त चीनी को फिल्टर और अवशोषित करने के लिए अतिरिक्त काम करने के लिए मजबूर किया जाता है। अतिरिक्त चीनी जो कि गुर्दे अवशोषित नहीं कर सकते, वो मूत्र में उत्सर्जित होते हैं। यह अधिक पेशाब करने का कारण बनता है, खासकर रात में।

2-ज्यादा प्यास लगना-

जैसा कि ऊपर बताया गया है, जब महिला को मधुमेह होता है, गुर्दे को अतिरिक्त चीनी अवशोषित करना पड़ता है। जिसके लिए बहुत सारे तरल पदार्थ की आवश्यकता होती है, इसलिए महिला को अधिक प्यास लगती है।

3-वजन कम होना

जब आप अक्सर मूत्र के माध्यम से चीनी खो देते हैं, तो आप कैलोरी भी खो देते हैं। इसके अलावा, मधुमेह आपके भोजन से चीनी को आपके कोशिकाओं तक पहुंचने से रोक सकता है।

4- ज्यादा भूख लगना

भूख की अत्यधिक पीड़ा, मधुमेह का एक और लक्षण, रक्त शर्करा के स्तर में तेज उतार-चढ़ाव से आ सकता है। जब रक्त में शर्करा का स्तर घटता है, तो शरीर यह सोचता है कि इसे खिलाया नहीं गया है और अधिक ग्लूकोज की आवश्यकता होती है, जो कोशिकाओं को कार्य करने के लिये आवश्यकता होती है।

5-थकान महसूस करना

बेशक महिला ज्यादातर समय थका हुआ महसूस करते हैं, क्योंकि जो भोजन  ऊर्जा के लिए खा रहे हैं वह कोशिकाओं द्वारा प्रयोग नहीं किया जा रहा है। इसके अलावा, निर्जलीकरण भी महिला के थकान को बढ़ाता है।

6. धुंधला दिखना

विकृत दृष्टि और रोशनी की कभी-कभी चमक देखना, उच्च रक्त शर्करा के स्तर का प्रत्यक्ष परिणाम होता है। आपके शरीर में द्रव का स्तर बदलना आपकी आंखों में लेंस को सूजा सकता है। इसके अलावा, जब रक्त में ग्लूकोज उच्च होता है, यह लेंस और आंख के आकार में परिवर्तन करता है। यह सब, लेंस की अपनी क्षमता खोने का और ठीक से काम न करने का कारण बनता है।

7- जले, कटे और घावों का धीमी गति से ठीक होना

जले, कटे और घाव का जल्दी से ठीक न होना, मधुमेह का एक और बड़ा संकेत हैं। प्रतिरक्षा प्रणाली और प्रक्रियाएं जो शरीर को चंगा करने में मदद करती हैं, बहुत अच्छी तरह से काम नहीं करती हैं, जब आपके शर्करा का स्तर उच्च होता है।

8-खमीर संक्रमण

चूंकि मधुमेह आपके शरीर की प्रतिरक्षा को नीचे लाती है; संक्रमण और रोग अधिक होने की संभावना है। खमीर का आहार ग्लूकोज है और शरीर में बहुत अधिक होने से यह कामयाब होने लगता है। संक्रमण किसी भी गर्म, त्वचा के नम गुच्छे में बढ़ सकता है, जिसमें शामिल हैं-

  • उंगलियों और पैर की उंगलियों के बीच
  • स्तनों के तहत
  • महिलाओं को, विशेष रूप से, योनि कैंडिडा संक्रमण से सावधान रहना चाहिए।

9-शुष्क मुँह और खुजली वाली त्वचा

मधुमेह रोगाणुओं से लड़ने की आपकी क्षमता को कमजोर कर सकता है, जिससे आपके मसूड़ों में संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है। आपके मसूड़ों को अपने दांतों से दूर खींच सकते हैं, आपके दाँत ढीले हो सकते हैं, या आपके मसूड़ों में घाव या मवाद विकसित कर सकते हैं। इसके अलावा, निर्जलीकरण के कारण शुष्क मुंह और खुजली वाली त्वचा सकती है।

10-हाथों और पैरों का सुन्न होना

कई दिनों तक डायबिटीज होने की वजह से यह आपका नर्वस सिस्टम और आपका ब्लड वेसल्स प्रभावित होता है जिससे आपको किसी तरह की संवेदना नहीं रह जाती है और आपके हाथ और पैर सुन्न हो जाते हैं।

11-आपकी गर्दन और बगल के चारो तरफ काले धब्बे होना

यह एक बहुत ही सामान्य लक्षण होता है क्योंकि जब ग्लूकोज आपके शरीर के किसी भाग में एकत्र होता है तो वहाँ काले धब्बे बन जाते हैं और यह आपकी गर्दन और कांख में आसानी से देखा सकता है।

अगर किसी महिला को डायबिटीज नहीं भी है, लेकिन ऊपर बताये गये सारे लक्षणों में से कोई भी लक्षण महसूस होता है तो अपना तुरंत चेकअप करवाएं जिससे कि आप डायबिटीज जैसी गंभीर समस्या को होने से बच सके।

About the author

Surbhi

मेरा नाम सुरभि है और ब्लोगिंग मेरा पेशन है. में अपने ब्लॉग पर आयुर्वेदिक और घरेलू नुस्खों के बारे में बताती हु. आप सभी जानते है की आयुर्वेदिक और घरेलू नुस्खे हमारे लिए कितना फायदेमंद है और इनका किसी तरह का साइड इफ़ेक्ट नहीं है. इसलिए में अपने ब्लॉग पर आपको आयुर्वेदिक और घरेलू नुस्खों के बारे में बताउंगी ताकि आप इन्हें अच्छे से जान सके और बिना किसी साइड इफ़ेक्ट के खुद में बदलाव ला सके.

Leave a Comment