Gharelu Nuskhe Treatments

आइये जानते है ल्यूकोरिया के कारण, घरेलु इलाज- White Discharge Prevention in Hindi

likoria ka desi ilaj in hindi
Written by Surbhi

लिकोरिया को आम भाषा मे सफेद पानी, वाइट डिस्चार्ज या श्वेत प्रदर भी कहते है। ये महिलाओं या लड़कियों में होने वाली आम समस्या है जिसमे योनि से सफेद या पीले रंग का गाढ़ा चिपचिपा तीव्र बदबू वाला पदार्थ निकलता है।

इससे महिला को सदैव गीलापन महसूस होता है,जननांग में खुजली होती है। इसके साथ सबसे बड़ी समस्या ये होती है कि महिला या लड़की शर्म के कारण इसे छुपाती रहती हैं और आगे चलकर ये गम्भीर हो जाती है। सफेद पानी योनि या महिला जननांगों में बैक्टीरिया के कारण होता है।

लिकोरिया के कारण | Causes of Leukorrhea in Hindi

  • अप्राकृतिक सेक्स
  • किसी जननांग रोग से ग्रस्त पुरुष से सम्बन्ध बनाना
  • गलत तरीके से खानपान
  • सदैव उत्तेजक विचार रखना
  • बार बार गर्भपात होना
  • सेक्स के पश्चात योनि को सही से साफ ना करना
  • गर्भाशय में समस्या होने पर
  • हॉर्मोन असंतुलन
  • बैक्टीरियल या फंगल इंफेक्शन के कारण
  • योनि या जननांगों में घाव या खुजली,
  • पाचन खराब होने,कब्ज होने से
  • मेनोपॉज़,माहवारी शुरू होने के समय,डायबिटीज
  • एनीमिया, तनाव के कारण
  • योनि को बार बार धोने से उसका PH बैलेंस बिगड़ जाता है उससे भी ये समस्या होती है क्योंकि बाहरी इन्फेक्शन को रोकने वाले बैक्टीरिया भी धुल जाते है।
  • बच्चेदानी के कैंसर या बच्चेदानी के निकल जाने से भी होता है।
symptoms-of-Leukorrhea-white-discharge-in-hindi-women

ल्यूकोरिया (सफ़ेद पानी) के लक्षण | Symptoms of Leukorrhea in Hindi

कमजोरी का अनुभव, आँखों के सामने अंधेरा आना,भूख ना लगना,शरीर भारी रहना,चिड़चिड़ापन, योनि की खुजली,बार बार टॉयलेट आना,पिंडिलयो में खिंचाव,पेड़ू में दर्द,हाथ पैर कमर और पेट मे दर्द,जी मिचलाना,बार बार टॉयलेट आना,पेट मे कब्ज होना,जी मिचलाना,पेट मे भारीपन,चक्कर आना

धीरे धीरे ये महिला को अंदर से खोखला कर देता है और महिला असमय बूढ़ी लगने लगती है,चेहरे की रौनक चली जाती है।

ल्यूकोरिया (वाइट डिस्चार्ज) के उपचार | Treatment of Leukorrhea in Hindi

  • सबसे पहले तो सूती अंडरगारमेंट पहने,साफ सफाई रखे,माहवारी के समय कपड़े की जगह पैड यूज़ करे।
  • सेक्स सम्बन्धो में सावधानी बरतें।
  • तेज मसालेदार ,जंक फूड,ना खाएं।
  • समोसा,कचौड़ी,पिज़्ज़ा जैसी चीज ना खाएं।
  • दूध का सेवन कम से कम करे।

ल्यूकोरिया के घरेलु उपचार | Home Remedies for likoria hindi mei

  • आंवले के मुररबे का सेवन करे कम से कम 1 महीने लगातार, मुरब्बा घर पर बनाए तो ज्यादा बेहतर है।
  • इसके अलावा आप मुररबे की जगह आंवला चूर्ण भी ले सकती है।
  • मेथी लड्डू और मेथी पाक भी फायदेमंद है,एक एक चम्मच गुड़ और मेथी चूर्ण लेने से भी लाभ होता है।
  • भिंडी में कुछ ऐसे तत्व होते है जो सफेद पानी मे आराम देते है इसके लिए या तो भिंडी को रातभर एक गिलास पानी मे भिगोकर सुबह उस पानी को पिए।
  • या करीब100 gm भिंडी लेकर 500ml पानी मे उबाले और ठंडा होने पर पी ले।
  • एक चम्मच अंजीर की छाल और एक चम्मच बरगद की छाल का पाउडर 1 लीटर पानी मे उबाले और आधा होने पर ठंडा करके योनि मार्ग को साफ करें।
  • एक कटोरी पानी मे गोंद कतीरा रात को भिगो दें और सुबह थोड़ी सी मिश्री डालकर खाली पेट सेवन करे।
  • 5gm पिसी हरी शंखपुष्पी और 2 चम्मच पिसी मिश्री मिलाकर एक गिलास छाछ के साथ खाली पेट खाए।
  •  रात को पानी में दो से तीन अंजीर भिगो दें,सुबह भीगे हुए अंजीर खाकर पानी भी पी ले।
  • इसी प्रकार गुलाब के फूल की पंखुड़ियां सुखा कर पीस ले और एक चम्मच सुबह शाम दूध से ले।
  • कमलककड़ी खाए।
  • कच्चे केले की सब्जी खाए।
  • नीम की छाल और बबूल की छाल का काढ़ा पियें।
  • मुलहठी को बारीक चूर्ण की तरह पीसकर रोज एक ग्राम ले।
  • एनिमिया के कारण होने वाले सफेद पानी के लिए आयरन से भरपूर चीज़े खाए।
  • कमजोरी के कारण होने वाले लिकोरिया के लिए भरपूर पोषण वाली चीज़े खाए।
  • अमरूद के पत्ते 1 लीटर पानी मे उबाले और ठंडा होने इससे योनि साफ करे,कम से कम दिन में दो बार।
  • गाय के दूध के साथ नीम का तेल प्रयोग करे।
  • साबुत सूखा धनिया रात भर पानी मे भिगोए और सुबह इस पानी को छानकर पी ले।
  • 4 चम्मच मेथी दाने को पीसकर चूर्ण बना ले,एक गीले सफेद और साफ कपड़े में बांध कर छोटी सी पोटली बना ले और इसे कम से कम 4 घण्टे योनि में रखे।
  • प्रतिदिन रोज सुबह एक कच्चा केला खाए।
  • कच्चे केले के साथ गुड़ का या आंवले के जूस का भी सेवन कर सकती है।
  • 250 gm हरी मेथी को पानी मे उबालकर उस पानी के ठंडा होने पर रुई या कॉटन का कपड़ा भिगोकर योनि में रखे।

About the author

Surbhi

मेरा नाम सुरभि है और ब्लोगिंग मेरा पेशन है. में अपने ब्लॉग पर आयुर्वेदिक और घरेलू नुस्खों के बारे में बताती हु. आप सभी जानते है की आयुर्वेदिक और घरेलू नुस्खे हमारे लिए कितना फायदेमंद है और इनका किसी तरह का साइड इफ़ेक्ट नहीं है. इसलिए में अपने ब्लॉग पर आपको आयुर्वेदिक और घरेलू नुस्खों के बारे में बताउंगी ताकि आप इन्हें अच्छे से जान सके और बिना किसी साइड इफ़ेक्ट के खुद में बदलाव ला सके.

Leave a Comment