Ayurveda Treatments

निरी सिरप के फायदे,उपयोग और नुकसान | Neeri Syrup Use and Benefits in Hindi

neeri-syrup-details-review-in-hindi
Written by Surbhi

जानिये नीरी सिरप के बारे में विस्तार से:

आपने शायद नीरी सिरप का नाम नहीं सूना होगा लेकिन आपको बता दे की यह एक आयुर्वेदिक सिरप है जो कई तरह उपयोगी जड़ी-बूटियों से मिलकर बनी है। शरीर की कई तरह की बीमारियों में नीरी सिरप बहुत लाभकारी है। आईये जानते है नीरी सिरप कैसे काम करती है, इसके फायदे क्या है, इसके साइड इफ़ेक्ट क्या है और इसके इस्तेमाल के दौरान कौन-कौनसी सावधानियां रखनी चाहिए?

नीरी सिरप कैसे काम करती है? | How Neeri Syrup Works?

नीरी सिरप के निर्माता एमिल फार्मा इंडिया है। पेशाब से संबधित कोई बीमारी हो जैसे किसी तरह का संक्रमण, प्रोस्टेट से सम्द्भित समस्या हो या मूत संबधी किसी भी तरह की समस्या में नीरी सिरप आयुर्वेदिक डॉक्टरों द्वारा निर्धारित एक आयुर्वेदिक ओषधि है।

इसके अंदर कई ऐसे एंटीबैक्टीरियल गुण होते है जिसकी वजह से मूत्राशय से संबधित हर समस्या के लिए बहुत कारगार है। यह मूत्राशय की ताकत को बढ़ाकर प्रोस्टेटिक की जटिलता को कम करता है। गुर्दे के स्वास्थ्य के लिए नीरी सिरप किसी वरदान से कम नहीं है। बहुत से एंटी-ओक्सिडेंट तत्वों से मिलकर बनी नीरी सिरप शरीर के लिए कई तरह से फायदेमंद है।

नीरी सिरप के फायदे | Benefits of Neeri in Hindi

  • पेशाब में किसी भी तरह की जलन में आराम मिलता है।
  • मूत्र मार्ग के संक्रमण को रोकता है।
  • गुर्दे की पथरी को धीरे-धीरे कम करता है।
  • अगर आपको बार-बार दस्त लगती है तो उसमे नीरी सिरप बहुत फायदेमंद है।
  • अगर आपको पेशाबा करते समय कसी भी तरह किस समस्या हो रही है तो नियमित रूप से नीरी सिरप का सेवन करें।
  • प्रोस्टेट को रोकता है।
  • गुर्दे को जहरीले तत्वों से बचाता है।
  • गैस और गैस से होने वाली जलन को रोकता है।
  • अगर कम पेशाब आ रहा है तो उस नियमित करता है।
  • मूत्रमार्ग में किसी भी तरह के दर्द को रोकता है।
  • वजन घटाने में भी नीरी सिरप बहुत फायदेमंद है।
  • पाचन रोग, मधुमेह और मिर्गी में भी नीरी सिरप बहुत फायदेमंद है।

नीरी सिरप के साइड इफ़ेक्ट | Side-effects of Neeri Syrup in Hindi

  • सिरप के अधिक इस्तेमाल से हाइपरटेंशन हो सकती है।
  • नीरी सिरप को इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरुर ले अन्यथा यह आपके लिए हानिकारक भी हो सकती है।
  • अगर इसमें पाए जाने वाले किसी तत्व से आपको एलर्जी है तो इसका उपयोग ना करें।
  • नीरी सिरप का इस्तेमाल करने से पहले हाथों को अच्छी तरह से धो ले।
  • नीरी सिरप के अधिक इस्तेमाल से रक्तचाप की समस्या हो सकती है।
  • बच्चों को इस दवा से दूर रखें।
  • स्तनपान करवाने वाली महिला को डॉक्टर की सलाह के बाद ही इस सिरप का इस्तेमाल करना चाहिए।
  • अगर नीरी सिरप का नियमित इस्तेमाल करने के बाद भी किसी तरह का फर्क नहीं दिख रहा है तो एक बार डॉक्टर से बात जरुर करें।

नीरी सिरप से जुडी कुछ जरुरी बातें | Important things to Know

  • आयुर्वेदिक ओषधि होने के कारण वैसे तो इसके कोई साइड इफ़ेक्ट नहीं है लेकिन अति हर चीज की खराब होती है। इसलिए बोतल पर दी गई खुराक के हिसाब से इसे इस्तेमाल करें और एक बार डॉक्टर से राय जरुर ले।
  • नीरी सिरप का आप आराम से इस्तेमाल कर सकते है इसकी किसी भी तरह की लत या आदत नहीं पड़ती है।
  • ज्यादा मात्रा में इसका सेवन करने से फायदे की जगह आपको नुकसान हो सकता है।
  • अगर आप नीरी सिरप का सेवन कर रहे है तो शराब से दुरी बनाये रखें। अन्यथा यह आपके लिए हानिकारक साबित हो सकता है।
  • नीरी सिरप लेना पूर्णतया सुरक्षित है लेकिन फिर भी एक बार डॉक्टर से राय लेकर ले तो ज्यादा अच्छा रहेगा।
  • गर्भावस्था के दौरान नीरी सिरप का इस्तेमाल ना करें।
  • अगर आगे कोई सर्जरी होने वाली है तो इस सिरप का इस्तेमाल न करें।
  • अगर आपको रक्तस्राव की समस्या है तो डॉक्टर से सलाह जरुर ले।

आपने आज की इस पोस्ट में नीरी सिरप के फायदों और खुराक के बारे में जाना है। उम्मीद करता हु की आपको यह पोस्ट पसंद आई होगी और अगर आपको यह पोस्ट पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और कमेंट बॉक्स में अपने विचार दे ताकि हम आगे भी ऐसी अच्छी से अच्छी पोस्ट आपके बीच ला सके।

About the author

Surbhi

मेरा नाम सुरभि है और ब्लोगिंग मेरा पेशन है. में अपने ब्लॉग पर आयुर्वेदिक और घरेलू नुस्खों के बारे में बताती हु. आप सभी जानते है की आयुर्वेदिक और घरेलू नुस्खे हमारे लिए कितना फायदेमंद है और इनका किसी तरह का साइड इफ़ेक्ट नहीं है. इसलिए में अपने ब्लॉग पर आपको आयुर्वेदिक और घरेलू नुस्खों के बारे में बताउंगी ताकि आप इन्हें अच्छे से जान सके और बिना किसी साइड इफ़ेक्ट के खुद में बदलाव ला सके.

Leave a Comment