Health and Diseases Women's Health

Sex education क्यूँ जरूरी है? Importance of Sex Education for Women in Hindi

importance-of-sex-education-for-women-in-hindi
Written by Surbhi

बाकि विषयों की एजुकेशन की तरह सेक्स एजुकेशन भी उतनी ही जरूरी होती है। सेक्स एजुकेशन की मदद से महिलाएं अपने शरीर में हो रहे परिवर्तनों को पहचान पाएंगी और घबरायेंगी नहीं। सेक्स एजुकेशन से  लोगो के बीच जानकारी बढ़ती है। कई देशों में यह भी पाया गया है की सेक्स एजुकेशन देने से  इस से जुड़े गुनाहों में  भी कमी हुई है।

ज्यादातर लोगों को ग़लतफहमी होती है की सेक्स एजुकेशन का मतलब सेक्स के बारे में बात करना होता है।  लेकिन यह सच नहीं है।  सेक्स एजुकेशन में वो सारी बातें बताई जाती है जिनका जानना सबके लिए जरूरी होता है। इस एजुकेशन से लोगों में समझ बनती है ताकि वो अपने फैसले सही से ले पाएं।

कई बार महिलाएं जब पहली बार यह क्रिया करती है तो बहुत डरी  हुई होती है।  इसका सबसे बड़ा कारण है सेक्स एजुकेशन की कमी।  इसीलिए लड़कियों और महिलाओं के लिए भी सेक्स एजुकेशन बहुत जरूरी है। महिलाओं को हमेशा कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए। आइए जानते है यह कोनसी बातें है।

यह सेक्स एजुकेशन की कुछ टिप्स महिलाओं की बहुत सहायता करेंगी । Sex Education Tips for Women in Hindi

अपने आप से कीजिये सवाल

हर महिला को पहली बार सेक्स करने से पहले अपने आप से जरूर पूछना चाहिए की वो इसके लिए तैयार है या नहीं? क्या उनका यह कदम सही है या नहीं ? जिस इंसान के साथ वो आगे बढ़  रही है वो सही है या नहीं ? इन सभी सवालों के जवाब को जानने के बाद ही महिलाओं को आगे बढ़ना चाहिए।

प्रोटेक्शन का रखें ध्यान

बिना पप्रोटेक्शन के सेक्स करने की गलती नहीं करें। यह कार्य हमेशा प्रोटेक्शन के साथ ही करें। कोनसे तरीके का प्रोटेक्शन लेना चाहिए, इस बारे में अपने पार्टनर से पहले ही सलाह मशविरा कर लेना चाहिए।

कम्फर्टेबिलिटी का रखें ध्यान

अगर सेक्स के दौरान आप कम्फर्टेबले नहीं है तो रुक जाएये। किसी प्रकार की भी हिचक है तो रुक जाना सही होता है। मेल पार्टनर के साथ साथ महिलाओं का कम्फर्टेबले होना भी जरूरी होता है।

दर्द का रखें ध्यान

पहली बार सेक्स करने पर कई महिलाओं को दर्द होता है। लेकिन इस दर्द को कम करने के बहुत उपाय उपलब्ध है। सेक्स करने से पहले गर्म पानी से नहाने से बॉडी को आराम मिलता है। महिलाओं के आराम के लिए यह उपाय जरूर अपनाने चाहिए।

ख्यालों पर कण्ट्रोल रखें

पहले एक्सपीरियंस के दौरान महिलाओं के दिमाग में कई विचार आते है। लेकिन हो सकता है की इन विचारों के वजह से आपका एक्सपीरियंस ख़राब हो जाये। महिलाओं को हमेशा रिलैक्स्ड रहना चाहिए और हमेशा अपने पार्टनर की तरफ ध्यान देना चाहिए। उनको हमेशा याद रखना चाहिए की वो यह क्यों कर रही है और अपनी मर्ज़ी से ही कर रही है। दिमाग जब रिलैक्स्ड होगा तब ही आप अचे एक्सपीरियंस का अनुभव कर पाएंगी।

सेक्स एजुकेशन में बताएं फायदों के बारे में | Benefits of Sex Education in Hindi

महिलाओं के लिए सेक्स करने के कई फायदें होते है। इन फायदों के बारे में महिलाओं को सेक्स एजुकेशन में हमेशा बताना चाहिए। आइए जानते है यह फायदें क्या है :

1. स्वास्थ्य से जुड़े फायदें

इस क्रिया से महिलाओं के कई स्वास्थय से जुड़े फायदें होते है। इस क्रिया से महिलाओं में कई भावनात्मक बदलाव आते है। इनका प्रभाव हमेशा सकारत्मक होता है , पुरुष और महिला दोनों के लिए। बालों का स्वस्थ रहना , त्वचा का स्वस्थ रहना आदि ये सरे फायदें महिलाओं को मिलते है।

2. वजन भी होता है कम

वजन कम करने के लिए भी सेक्स फायदेमंद रहता है। सेक्स भी एक तरह का व्यायाम होता है जिसकी मदद से महिलाएं अपना वजन घटा सकती है। इसके अलावा इस क्रिया की मदद से मांशपेशियां भी स्वस्थ रहती है। इस क्रिया के दौरान महिलाओं में टेस्टेस्टोरॉन नमक हार्मोन का स्टार बढ़ता है। यह उनकी हड्डियों को मजबूत रखने में मदद करता है।

3. मानसिक स्वास्थ्य को बनाए रखता है

महिलाओं का मूड को सही रखने में और तनाव दूर करने में भी सेक्स मदद करता है। यह एक प्रेमपूर्ण सम्भन्ध होता है। इसकी वजह से महिलाओं का मानसिक स्वास्थ्य सही रहता है। मानसिक तनाव के कारण कार्टिसोल नमक हार्मोन बढ़ता है। इस हार्मोन की वजह से रक्तचाप में बढ़ोतरी , गैस बनाना आदि तकलीफें होती है। सेक्स की मदद से महिलाओं में तनाव कम होता है और वह इन परेशानियों से भी दूर रहती है।

4. दय का स्वास्थ्य

महिलाओं में हृदय के रोगों के चान्सेस ज्यादा होते है। नियमित रूप से सेक्स करने से महिलाएं कई प्रकार के हृदय के रोगो से दूर रहती है। एक अध्यन के अनुसार हफ्ते में दो से तीन बार सेक्स करने से महिलाओं में दिल के दोरेह पढ़ने के चान्सेस आधे से ज्यादा कम हो जाते है।

5. इम्युनिटी सिस्टम को बढ़ाता है

नियमित रूप से सेक्स करने वाली महिलाओं में प्रतिरोधक क्षमता अधिक होती है। इस वजह से उनका शरीर कई प्रकार के रोग, विरुसेस और बैक्टीरिया से लड़ पाता है। नियमित रूप से यह क्रिया करने पर महिलाओं का इम्यून सिस्टम स्ट्रांग होता है और वो कई बिमारियों और रोगों से दूर रहती है।

यह सभी बातें महिलाओं को सेक्स एजुकेशन के द्वारा बताई जानी चाहिए ताकि वह किसी भी बात से डरे नहीं। सेक्स एजुकेशन की मदद से वो अपने शरीर में हो रहे बदलावों को सही से समझ पाएंगी जिसकी वजह से उनको सही फैसले लेने में मदद मिलेगी। महिलाओं के हित के लिए उनको सेक्स एजुकेशन जरूर देनी चाहिए।

About the author

Surbhi

मेरा नाम सुरभि है और ब्लोगिंग मेरा पेशन है. में अपने ब्लॉग पर आयुर्वेदिक और घरेलू नुस्खों के बारे में बताती हु. आप सभी जानते है की आयुर्वेदिक और घरेलू नुस्खे हमारे लिए कितना फायदेमंद है और इनका किसी तरह का साइड इफ़ेक्ट नहीं है. इसलिए में अपने ब्लॉग पर आपको आयुर्वेदिक और घरेलू नुस्खों के बारे में बताउंगी ताकि आप इन्हें अच्छे से जान सके और बिना किसी साइड इफ़ेक्ट के खुद में बदलाव ला सके.

Leave a Comment