Computer Tricks Tech

Kernel क्या है – Kernel Kya Hai In Hindi

What is kernel in computers
Written by Kishan

अगर आपके कंप्यूटर में Kernel not found या फिर kernel से रिलेटेड कुछ भी एरर आता है और अगर नही भी आता है और आपको जानना है की Kernel होता क्या है? तो इस पोस्ट में आपको बताऊंगा की kernel क्या है और इसका main functionक्या है । So हेलो Guys में हूँ शिवम और आज की इस ब्लॉग पोस्ट में आपको में बताऊंगा की kernel क्या है । अब में आपको उस Kernel के बारे में ही बताऊंगा जो फौजियों को ट्रेनिंग वगरह देता है। में आपको कंप्यूटर वाले कर्नेल के बारे में बताऊँगा।

Kernel Layout

तो में आपको बता दू की कर्नेल सिर्फ कंप्यूटर में ही नही smart phones में भी होता है । कर्नेल आपको जितने भो OS यानी की Operating Systems है सब में देखने को मिलेगा । चाहे वो Windows, Macintosh, Linux, Android, IOS, Blacberry ही क्यों न हो । जितने भी Operating System है सब में कर्नेल होता है। तो जब ये सभी Operating System में ओट है तो इसका जरूर कुछ ऐसा काम होगा जो बहोत important होगा ।

तो अगर आप जानना चाहते हो की इसका क्या वर्क है तो इस ब्लॉग पोस्ट को शुरू से लेकर आखिर तक जरूर पढ़ना । तो ज्यादा टाइम न waste करते हुए चलिए स्टार्ट करते है।

Kernel क्या है

What is kernel

Kernel क्या है

तो जैसा की मेने आपको बताया की ये हर Operating System का बहोत जरूरी part होता है। आपको हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर के बारे में तो पता ही होगा अगर आपको नही पता तो सबसे पहले आपको समझना होगा की हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर होते क्या है तभी आपको kernel के बारे में समझ में आएगा।

Hardware ( हार्डवेयर )

तो दोस्तो हार्डवेयर आपके कंप्यूटर के पार्ट्स होते है । जो की हार्ड होते है यानी की आप उन्हें छू सकते हो touch कर सकते हो। हार्डवेयर की मदत सके आप अपने कंप्यूटर या लैपटॉप को operate कर पाते हो या कह सकते है की कंट्रोल कर पाते हो। हार्डवेयर जैसे की Keyboard,Pendrives, Mouse, Hard Disk, Printer और बही वगरह वगरह चीज़े जो कंप्यूटर में लगा के इस्तेमाल की जाती है। तो ये होता है हार्डवेयर। और सरफ कंप्यूटर ही नही फ़ोन्स के भी होते है । अब फ़ोन्स के हार्डवेयर जैसे OTG, Battery, और भी हार्ड चीज़े।

Software ( सॉफ्टवेयर )

अब हार्डवेयर तो आपको पता चल गया जो की हार्ड होते है । लेकिन ये मत समझना की सॉफ्टवेयर सॉफ्ट होते है। जो सॉफ्टवेयर होते वो आपके कंप्यूटर में जो आप सॉफ्टवेयर इनस्टॉल करते हो न वो ही होते है । अगर आप confuse हो रहे हो तो बिल्कुल आसान शब्दो मेके बताऊ तो जैसे VLC Media Player, Adobe Photoshop और भी जो तरह तरह के सॉफ्टवेयर इंसटाल करते हो वही सॉफ्टवेयर है । इनमे सभी अंदर की चीज़े आजाती है एंटीवायरस वगरह जो भी सॉफ्टवेयर्स होते है । और सिर्फ कंप्यूटर में ही नही फ़ोन्स में भी इस ही होता है बस उन्हें सॉफ्टवेयर की जगह एप्लीकेशन कहा जाता है । और आपका Operating System भी तो एक Software ही है ।

Again To Topic ( kernel क्या है )

what is kernel in computers

Kernel क्या है

तो अब तो आआपको समझ में आ गया होगा की हार्डवेयर ओर सॉफ्टवेयर क्या होता है । तो अब समझते है की कर्नेल क्या है। तो कर्नेल वो सिस्टम है जो की Hardware और Software को interact कराता है। मतलब की वो Hardware जो भी इनफार्मेशन भेज रहा है वो सॉफ्टवेयर को बताता है की ये करना है । मानलो जैसे की आपने राइट क्लिक दबाया mouse में तो अब कर्नेल आपके Operating System को ये मैसेज देगा की भाई राइट क्लिक में जो एक्शन होता है वो परफॉर्म करना है। मतलब की इसका काम है इनफार्मेशन पहोचाना Hardware और Software के बीच में ।

और सरफ इतना ही नही ये आपके कंप्यूटर या लैपटॉप या फ़ोन में ये भी तय करता है की कोनसा सॉफ्टवेयर कितनी RAMconsume करेगा । मानलो की एक सॉफ्टवेयर है जिसे 500 MB RAM चाहिए तो कर्नेल उसे 500 MB RAM देगा उस RAMमें के जितनी आपके कंप्यूटर या फिर फ़ोन में है। मान लो की आपको कंप्यूटर या फ़ोन में 2 GB RAM है और आपने 2 सॉफ्टवेयर को रन किया तो दोनो को चलने के लिए जितनी RAM की जरूरत होगी वो कर्नेल आपको देगा।

Kernel काम कैसे करता है

How does kernel works

Kernel क्या है

तो जैसा की मेने आपको बताया की ये हार्डवेयर ओर सॉफ्टवेयर में interection करता है । तो ये कुछ तरह से काम करता है की जैसे ही आप कुछ भी इंफोर्मेशन भेजते हो हार्डवेयर के थ्रू तो ये आपकी भेजी हुई इनफार्मेशन या कह सकते है कमांड को सॉफ्टवेयर को बताता है की ये करना है। मानलो आपने कीबोर्ड में प्रेस किया Y तो जो कर्नेल है वो सॉफ्टवेयर को ये बताएगा की उसे Y का एक्शन परफॉर्म करना होगा क्योंकि आपने ये कमांड भेजी है। तो बस कर्नेल हार्डवेयर से दी हुई  information को सॉफ्टवेयर को बताता है।

और मानलो आपने 2 सॉफ्टवेयर रन किये हुए है तो और दोनो को 500 MB RAM चाहिए वर्क करने के लिए तो kernel उन्हें आपके Total RAM में से दोनो को 500 MB RAM देगा आकि दोनो ही अच्छे से काम कर सके। तो कर्नेल के ये दो काम होते है । और ये दोनो काम ही आपके किसी भी Operating System के लिए बहोत जरूरी है की वो ये परफॉर्म करे।

Conclusion

तो दोस्तो मेने आपको बत दिया है की Kernel क्या है और ये कैसे काम करता है। आप अपने फ़ोन की settings में जाओ स्तटिंग्स में जाने के बाद आप सबसे नीचे जो about phone का ऑप्शन होता है उसमे जाके नीचे की तरफ crawl करो और आपको वहां kernel version देखने को मिलेगा जो की आपके होने में है । तो दोस्तो आज के लिए बस इतना ही।

अगर आपको इससे रिलेटेड कोई भी डाउट हैं तो आप Comment कर सकते हैं | और भी ज्यादा जानकारी और फ़ास्ट servicesके लिए आप हमारा Official App भी डाउनलोड कर सकते हैं | ये PlayStore पर available है। आप इसे नीचे फ़ोटो पर क्लिक कर के download कर सकते हो।

About the author

Kishan

मैं कृष्ण पेशे से एक हिंदी ब्लॉगर हूँ. आज के समय में जैसे-जैसे लोगों को ब्लॉग के बारे में पता चल रहा है, लोग भी अपने हुनर को लोगों तक पहुंचाना चाहते है. ऐसे में उन्हें जरूरत है सही गाइडलाइन. मेरे ब्लॉग से आप ब्लोगिंग से जुडी सारी जानकारी आसानी से पा सकते है. ब्लॉग कैसे बनाते है, पोस्ट कैसे करते है, पोस्ट को रैंक कैसे करते है आदि ब्लोगिंग से जुडी सभी चीजों के बारे में आप मेरे ब्लॉग से जानकारी पा सकते है.

Leave a Comment